Mahila samuh loan Yojana

महिला समूह लोन योजना 2024, ऐसे करें ग्रुप लोन ऑनलाइन आवेदन

Mahila samuh loan Yojana – गांव वाले क्षेत्रों में महिलाओं को कहीं प्रकार की आर्थिक समस्या का सामना करना पड़ता है, इसी कारण की वजह से वह किसी भी प्रकार का लोन लेने से पहले लोन लेने का विचार ही नहीं कर पाती और ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं की इस समस्या को हल करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा एक ऐसी योजना चला रखी है जिसके तहत महिलाएं ग्रुप बनाकर लोन ले सकती है, क्योंकि इस स्कीम में 10 महिलाओं का एक ग्रुप बनेगा, और इन सभी महिलाओं को लोन दिया जाएगा और इसको महिला समूह लोन योजना कहा जाता है, और आज के इस लेख में हम आपको महिला समूह लोन योजना 2024 के बारे में जानकारी देंगे इसलिए आप शुरू से लेकर अंत तक इस लेख को जरूर पढ़ें।

महिला समूह लोन योजना 2024

हम बात कर रहे हैं महिला समूह लोन योजना इस लोन योजना में लगभग 10 से 15 महिलाओं का एक ग्रुप बनाया जाता है, और इन सभी महिलाओं को 20 से 25000 रुपए दिए जाते हैं, जो यह ग्रुप लोन देते है यह बैंक द्वारा दिया जाता है, और यहां से लगभग 2 प्रतिशत ब्याज दर पर वापस वसूल किया जाता है।

महिला समूह लोन योजना इसी योजना को शुरू करने का केवल एक ही उद्देश्य हैं कि ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं को आर्थिक मदद मिल सके इसलिए महिला समूह लोन योजना शुरू की गई है। यह ग्रुप लोन उन महिलाओं को दिया जाता है, जो अपना स्वयं का कुछ व्यवसाय शुरू करना चाहती हैं, क्योंकि इस लोन से वह गृह उद्योग खोल सकती है इसलिए महिला समूह लोन योजना के तहत महिलाओं को आर्थिक मदद दी जाती है।

महिला समूह लोन योजना में सभी महिलाओं को लोन देने में किसी प्रकार की समस्या नहीं होती है, जो भी पैसा लेती है, वह वह पैसा सब महिलाओं में डिवाइड जाता है और थोड़ा-थोड़ा करके लोन की भरपाई कर देती है। जैसे ही लोन चुकता होने पर इन सभी महिलाओं के ग्रुप पर बड़ा लोन राशि मिल जाता है।

महिला ग्रुप लोन के जरूरी दस्तावेज

अगर कोई महिला महिला ग्रुप लोन लेना चाहिए तो सबसे पहले उसके पास यह जरूरी दस्तावेज होना अनिवार्य है, महिला ग्रुप लोन योजना में कौन-कौन से दस्तावेजों की जरूरत पड़ती है हम आपको नीचे बताएंगे।

  • इस योजना में लगभग 10 महिलाओं का एक ग्रुप बनाया जाता है, और सबसे जरूरी बात यह भी है कि सभी महिलाओं की सहमति होना अनिवार्य है, क्योंकि उनका सहमति प्रमाण पत्र होना जरूरी है।
  • ग्रुप लोन योजना में सभी महिलाओं का आधार कार्ड होना चाहिए और पहचान प्रमाण पत्र भी होना अनिवार्य है।
  • ग्रुप में जुड़ने वाली महिला का जन आधार कार्ड एवं राशन कार्ड होना चाहिए।
  • ग्रुप की सभी महिलाओं का बैंक में खाता होना चाहिए।
  • जो महिला ग्रुप से जुड़ी हुई है वह जुड़ना चाहती है उनका प्रेजेंट टाइम का पासपोर्ट साइज के फोटो होना चाहिए।
  • जो महिला ग्रुप में जुड़ी हुई है उन सभी महिलाओं के ग्रुप का एक फोटो होना चाहिए जिसमें सभी महिलाएं इंक्लूड हो।
  • आपके पास कहीं और मांगे जाने वाले दस्तावेज होना चाहिए, बैंक आपसे इसके अलावा भी डॉक्यूमेंट के तौर पर प्रमाण पत्र अन्य दस्तावेज भी मांगे जा सकते हैं।

समूह लोन की जानकारी –

  • जो भी महिला इस ग्रुप लोन में शामिल होती है सभी महिलाओं को एक साथ लोन की किस्त देनी होती है।
  • लोन लेने के बाद सभी महिलाओं को एक साथ आना अनिवार्य है।
  • अगर इस ग्रुप में कोई महिला किस्त देने में असमर्थ रहती है तो यह जिम्मेदारी इन सभी महिलाओं की होगी।

यह भी पढ़ें –

महिला ग्रुप लोन का उद्देश्य –

  • महिला ग्रुप लोन लेने का आखिरकार उद्देश्य क्या है महिला इस लोन को क्यों ले इसके बारे में भी हम नीचे आपको जानकारी दे रहे हैं-
  • अगर कोई महिला घर पर खुद का काम शुरू करना चाहती है और पैसों की जरूरत है तो इस योजना का लाभ उठा सकती हैं और अपने काम को शुरू कर सकती है।
  • किसी योजना को सिर्फ महिलाओं के लिए चलाया गया है। ताकि महिला भी अपना खुद का छोटा सा बिजनेस शुरू कर सके।
  • एक महिला समूह लोन लेकर अपना खुद का छोटा सा व्यापार शुरू कर सकती हैं और उसको इस समूह लोन से आर्थिक मदद भी मिल जाती है।

महिला ग्रुप लोन में कितनी राशि मिल सकती है ?

महिला ग्रुप लोन शुरुआती दौर में बहुत ही कम राशि मिलती है हालांकि पिक राशि बताना निश्चित नहीं है, पर जहां तक सुना है वह ग्रुप वाली महिला में से जानकारी ली है, अगर महिलाओं का ग्रुप अच्छे से काम करता है जैसे समय पर महीने की किस्त चुकाना वह ग्रुप में किसी भी लेनदेन में दिक्कत ना होना ग्रुप अगर अच्छे से चल रहा है तो वह बड़ा अमाउंट भी मिल जाता है, हालांकि 10 महिलाओं को ₹50000 राशि दी जाती है और इससे ज्यादा भी मिल सकती है।

महिला ग्रुप लोन योजना में ब्याज क्या है ?

अगर आप महिला ग्रुप लोन योजना के ब्याज के बारे में जानकारी चाहते हैं तो इस प्रकार के लोन में लगभग दो प्रतिशत का ब्याज देना पड़ सकता है, हालांकि यह ब्याज लोन राशि पर भी निर्भर करता है, कितनी महिलाओं में कितना लोन दिया और कितना ब्याज वसूला जाएगा इस प्रकार से ब्याज राशि का कैलकुलेट किया जाता है।

महिलाएं समूह लोन योजना में आवेदन कैसे करें ?

इस योजना में आवेदन करने के लिए सबसे पहले 10 महिलाओं का एक ग्रुप बनाया जाता है और 10 महिलाओं का एक जॉइंट खाता खोला जाता है, इस खाते में सभी महिलाओं के नाम होते हैं, और इनका एक ग्रुप खाता खोल दिया जाता है, सभी महिलाओं के सटीक डॉक्यूमेंट / दस्तावेज लिए जाते हैं।

इसके बाद आपको loan के लिए बैंक में Loan के लिए आवेदन करना होता है, जो महिलाएं ग्रुप में शामिल है जिस बैंक में लोन के लिए आवेदन कर रहे हैं, उसे उसे ग्रुप की महिलाओं का भी पर्सनल बैंक खाता इस बैंक में होना चाहिए। अप्लाई करने के बाद लगभग एक महीने में समूह के खाते में ₹50000 ट्रांसफर कर दिए जाते हैं और इन सभी पैसों को 10 महिलाएं 5 हजार ले सकती है।

महिला समूह लोन की सिक्योरिटी ?

महिला लोन की सिक्योरिटी कैसे देनी होती है यह एक सरकारी लोन योजना है, इसमें आपको सरकार को किसी भी प्रकार की सिक्योरिटी देने की जरूरत नहीं पड़ती क्योंकि इसमें सिक्योरिटी सरकार ही देती है, इस लोन में सरकार की मदद भी मिलती है और सिक्योरिटी देने की जरूरत नहीं पड़ती।

महिला समूह लोन मिलने के बाद क्या करें ?

एक बार अगर आप महिला समूह लोन योजना से लोन ले लिया है, तो अब यह आपकी जिम्मेदारी हो जाती है, कि इस लोन को हम कैसे भर सकते हैं, हालांकि इस लोन में आपको ब्याज काम ही देना होता है लगभग 2 प्रतिशत लगता है।

अंतिम शब्द –

हमने आपको जानकारी दी है, महिला ग्रुप लोन योजना की आप आप महिला ग्रुप लोन कैसे ले सकते हैं इसमें 10 महिलाओं को ग्रुप बनाया जाता है और ₹50000 के लामसम आपको लोन मिलता है आवेदन कैसे करना है हमने जानकारी आपको इस पोस्ट में बताएं हैं आपको कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताएं और इस आगे सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top